क्या इलेक्ट्रिक स्कूटर लेना सही है ? इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने के क्या फायदे और नुकसान हैं

दोस्तों बाजार में आज कई इलेक्ट्रिक स्कूटर उप्लब्श है और हर तरफ इलेक्ट्रिक स्कूटर की बात चल रही है लेकिन ऐसे में हमारे मन में एक सवाल आता है क्या इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना चाहिए की नहीं ? इस सवाल के चलते कस्टमर हमेशा उल्जन में रहते है। आपकी उल्जन को दूर करने के लिए आज हम इस सवाल का जवाब देने वाले है और बताएँगे की क्या आपके लिए इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना सही है की नहीं ? (Should You Buy Electric Scooter Or Not In India)

इस सवाल का जवाब सभी के लिए अलग-अलग हो सकता है क्योकि अभी तक देश के कई स्थानों पर इलेक्ट्रिक व्हीकल की चलन कम है इस कारण कुछ स्थानों पर चार्जिंग की सुविधा भी कम है। 

अगर आप के आस पास चार्जिंग स्टेशन की कोई कमी नहीं है या आप अपने स्कूटर को घर पर ही चार्ज कर सकते है तो आप इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीद सकते है लेकिन ध्यान रहे आपको उचित रेंज वाला इलेक्ट्रिक स्कूटर ही खरीदना है जिस कारण अगर आप स्कूटर की घर पर ही चार्ज करे तो कई प्रॉब्लम न आये। 

इसके अलावा भी आपके निर्णय को कुछ और सवालो के जवाब बदल सकते है तो इस आर्टिकल को आगे पढ़ते रहे। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने के क्या फायदे और नुकसान हैं

इलेक्ट्रिक स्कूटर के फायदे

  • इलेक्ट्रिक स्कूटर बिजली से चलते है जिस कारण इनको चलने का खर्चा कम होता है। 
  • इलेक्ट्रिक स्कूटर में इंजन नहीं होने के करण सर्विस का भी खर्चा कम होता है। 
  • इनसे किसी भी प्रकार का पर्दूषण नहीं होता है और ये eco friendly व्हीकल होते है। 
  • सरकार इलेक्ट्रिक व्हीकल को सपोर्ट करने के लिए सब्सिडी भी देती है और इन स्कूटर पर किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं लगाती। 
  • इस्तेमाल करने में आसान होते है। 

 इलेक्ट्रिक स्कूटर के नुकसान 

इलेक्ट्रिक स्कूटर के बहुत ही कम नुकसान देखने को मिलते है जिसका समाधान सरकार और इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माता कर रहे है और ज्यादा तर नुक़्सानो को कंपनियों द्वारा दूर  किया जा रहा है। 

  • इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत पैट्रॉल और ICE स्कूटर से ज्यादा होती है। 
  • इनको चार्ज करने में ज्यादा समय लगता है। 
  • इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने का खतरा बना रहता है। 
  • इन स्कूटर की रेंज कम होती है जिस कारण इन्हे लम्बी दूरी के लिए इस्तेमाल नहीं लिए जा सकता। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर में किये गए सुधर जो इनके नुक़्सानो को कम करते है :- 

  • कंपनिया अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर को पट्रोल और ICE स्कूटर की कीमत में लॉन्च कर रही है। देश में 80 हजार से कम कीमत में अच्छे इलेक्ट्रिक स्कूटर देखने को मिल जाते है। 
  • चार्जिंग में ज्यादा समय लगने वाली समस्या को स्वैपिंग बैटरी के माध्यम से कम की जा रही है जिसमे कुछ सेकंड में स्कूटर फुल चार्ज किये जा सकता है। इसके अलावा कंपनिया अपने फ़ास्ट चार्जिंग स्टेशन पर भी कम कर रही है। 
  • पॉपुलर इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माओं के इलेक्ट्रिक स्कूटर में अब आग लगाने का खतरा कम हो चूका है और सरकार ने इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माताओं के लिए जरुरी नियम बनाये है जिससे व्हीकल की सुरक्षा की जाँच के बाद ही स्कूटर को बाजार में लॉन्च किया जाता है 
ather electric scooter -4

इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदते समय किन बातो का ध्यान रखा चाहिए ?

अगर आप इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने को सोच रहे है तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए जिससे आप अपने लिए बेहतरीन इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदन सके और स्कूटर खरीदने के बाद आपको कोई पस्तावा न हो। 

  • सबसे पहले आपको ये देखना है की क्या आप के शहर में प्राप्त चार्जिंग स्टेशन है या फिर क्या आप अपने घर पर अपने स्कूटर को चार्जर कर सकते है 
  • इसके बाद आपको ये भी देखना है की आप दिन में स्कूटर के साथ कितने किलोमीटर का सफर करने वाले है और उसके बाद रही रेंज वाला ही इलेक्ट्रिक स्कूटर सेलेक्ट करे। 
  • स्कूटर खरीदने से पहले उस इलेक्ट्रिक स्कूटर के बारे में पूरी जानकारी लेले और स्कूटर निर्माता कंपनी के बारे में भी जाँच करले। 
  • ध्यान रहे ज्यादा तर इलेक्ट्रिक स्कूटर जो कंपनी रेंज दिखाती है वो रियल वर्ल्ड में नहीं मिलती है ऐसे में आपको उस स्कूटर की रियल रेंज जानना जरुरी है। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर इतने महंगे क्यों होते है ?

ज्यादा तर इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत नार्मल पैट्रॉल इलेक्ट्रिक स्कूटर से ज्यादा होती है। इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत ज्यादा होने का कारण इसमें लगी बैटरी होती है वर्तमान में इन स्कूटर्स में लिथियम आयन बैटरी का इस्तेमल होता है और इसकी कीमत ज्यादा होती है और बैटरी पर टैक्स भी ज्यादा लगता है। हालांकि सरकार ने इस मामले में व्हीकल निर्माताओं की मदत की और इलेक्ट्रिक व्हीकल में इस्तेमाल होने वाली बैटरी पर लगने वाले टैक्स को कम किया है और भारत सरकार इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माताओं को भी सब्सिडी देती है जिस कारण इलेक्ट्रिक स्कूटर कम कीमत में बन पाते है। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर में चार्जिंग का खर्चा कितना आता है ?

इलेक्ट्रिक स्कूटर का सबसे बड़ा फायदा इसकी रनिंग कॉस्ट है इन स्कूटर को चलने में पैट्रॉल स्कूटर से कई  गुना कम खर्चा आता है अगर आप के शहर में इलेक्ट्रिसिटी की कॉस्ट 5 रुपये प्रति यूनिट है तो आप 10 से 15 में 100 किलोमीटर का सफर तय कर सकते है यानि 10 से 15 पैसा प्रति एक किलोमीटर का खर्चा आता है। 

vida electric scooter -2

इलेक्ट्रिक स्कूटर से होने वाली बचत 

क्योंकी इलेक्ट्रिक स्कूटर की रनिंग कॉस्ट कम होती है इस कारण आप हर साल इलेक्ट्रिक स्कूटर का इस्तेमाल करके बड़ी बचत कर सकते है बाजार में सबसे फेमस इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माता ओला के सबसे सस्ते इलेक्ट्रिक स्कूटर ओला S1 एयर इलेक्ट्रिक स्कूटर में होनी वाली बचत को देखे तो, अगर आप हमेशा 30 किलोमीटर का सफर ओला S1 एयर इलेक्ट्रिक स्कूटर के साथ करते है तो आप हर साल 30 हजार रुपये और तीन सालो की बचत यानि 90,000 रुपये के साथ नया ओला S1 एयर इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीद सकते है। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने के कारण ?

वैसे तो अब इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने का खतरा कम होता जा रहा है और सरकार भी इलेक्ट्रिक व्हीकल को लेकर कड़े नियम लागु कर रही है लेकिन फिर भी इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने के कारण की बात करे तो स्कूटर की बैटरी ज्यादा गरम होने के कारण इन स्कूटर में आग लगने के हादसे सामने आते थे। 

वर्तमान में इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माता स्कूटर की बैटरी को ठंडा रखने के लिए कई उपाय कर रही है जिनमें से एक है Liquid Cooling इस टेक्नोलॉजी से स्कूटर की बैटरी गरम नहीं होती है। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर में रेंज कितनी मिलती है ?

वर्तमान में आप को बाजार में 50 किलोमीटर से 200 किलोमीटर तक की रेंज वाले इलेक्ट्रिक स्कूटर देखने को मिलते है लेकिन ये रेंज स्कूटर में कम स्पीड में मिलती है और इलेक्ट्रिक स्कूटर को ज्यादा स्पीड के साथ चलने पर रेंज भी कम हो जाती है। आप इलेक्ट्रिक स्कूटर की रेंज बढ़ाने के तरीके पढ़ कर अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर की रेंज बढ़ भी सकते है। 

FAQs 

क्या इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना चाहिए ?

हाँ, वर्तमान में भारत की इलेक्ट्रिक व्हीकल निर्माता कंपनिया अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर को बेहतर बना रही है और  बाजार में कई बजट सेगमेंट के इलेक्ट्रिक स्कूटर भी मौजूद है इसलिए आपको इलेक्ट्रिक स्कूटर जरूर खरीदना चाहिए। 

इलेक्ट्रिक स्कूटर से कितनी बचत होती है ?

इलेक्ट्रिक स्कूटर में पैट्रॉल स्कूटर से कई गुना बचत होती है इलेक्ट्रिक स्कूटर एक किलोमीटर में लगभग 0.15 रुपये (15 पैसे ) की बजली खर्च करता है वही पैट्रॉल स्कूटर में एक किलोमीटर चलने में 2 रुपये दे ज्यादा का खर्चा आता है। 

 इलेक्ट्रिक स्कूटर की टॉप स्पीड कम क्यों होती है ?

इलेक्ट्रिक स्कूटर में रेंज को बढ़ने के लिए स्पीड को कम रखा जाता है, अगर  इलेक्ट्रिक स्कूटर को ज्यादा रफ़्तार के  साथ चलाये जाता है तो मोटर को ज्यादा पावर की जरुरत होती और बैटरी ज्यादा खर्च होती जिस से रेंज भी कम मिलेगी। 

evYatri Talk

देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल का मार्केट तेजी के साथ बढ़ रहा है और इलेक्ट्रिक स्कूटर इनमे सबसे आगे है। वर्तमान में इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना सबसे अच्छा ऑप्शन है क्योंकी इस समय इलेक्ट्रिक स्कूटर पर सरकार सब्सिडी के साथ साथ कई और बेनिफिट्स भी दे रही है और कंपनिया भी मार्केट को कवर करने के लिए नए-नए  इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च कर रही है। मेरी राय की बात करे तो मैं इस समय पैट्रॉल स्कूटर की बजाये इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना ज्यादा पसंद करूँगा। 

Leave a Comment