NASA की ये टेक्नोलॉजी इलेक्ट्रिक व्हीकल को 5 मिनट में चार्ज कर सकती है

इलेक्ट्रिक व्हीकल में सबसे बड़ी प्रॉब्लम चार्जिंग की है, चार्जिंग में लगने वाला समय ज्यादा होने के कारण इलेक्ट्रिक व्हीकल को लम्बी दूरी के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है

लेकिन चार्जिंग की इस प्रॉब्लम को नासा की नई टेक्नोलॉजी से सोल्वे किया जा सकता है

नासा ने अपने नई स्पेस मिशन के इस्तेमाल के लिए ऐसी टेक्नोलॉजी का ईजाद किये है जो इस प्रोसेस में मदद कर सकता है

चार्जिंग के दोहरान इलेक्ट्रिक वायर में करंट चलता है जिस से गर्मी उत्पन होती है

चार्जिंग जितनी ज्यादा तेजी से की जाती है गर्मी उतनी ही ज्यादा उत्पन होती है जिस से चार्जिंग के स्पीड को मजबूरन काम किया  जाता है

लेकिन नासा की नई टेक्नोलॉजी से इस प्रॉब्लम को सोल्वे किये जा सकता है।

नासा की इस नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किये जाये तो इलेक्ट्रिक वेहिकल को मात्र 5 मिनट्स में चार्ज किये जा सकता है

भविष्य में इस टेक्नोलॉजी से इलेक्ट्रिक वेहिकल का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा किया जा सकते है और

चार्जिंग टाइम इतना काम होने के कारण इलेक्ट्रिक व्हीकल को लम्बी दूरी के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है